स्वागत हे, शुक्रवार, सितंबर 21, 2018

भाषायें

एमएसई से प्रापण हेतु एसटीसी की योजना

सूक्ष्म और लघु उद्यमों के लिए सार्वजनिक खरीद नीति, 2012

तथा

वार्षिक खरीद योजना: 2016-17

सूक्ष्म और लघु उद्यमों के लिए सार्वजनिक खरीद नीति (एमएसई) आदेश, 2012 सरकार द्वारा अधिसूचित के साथ लाइन में। भारत की, एसटीसी खरीद निविदाओं में सूक्ष्म और लघु उद्यमों की भागीदारी को प्रोत्साहित करती है। वर्ष 2016-17 के दौरान एमएसई से वस्तुओं और सेवाओं की खरीद के लिए एसटीसी की योजना इस प्रकार है:

 

अनुसूचित जाति / अनुसूचित जनजाति के उद्यमियों के स्वामित्व वाले एमएसई से 4% सहित निर्मित उत्पादों / माइक्रो एवं लघु उद्यमों (एमएसई) द्वारा दी गई सेवाओं के माध्यम से अपनी कुल वार्षिक खरीद का न्यूनतम 20% की समग्र खरीद लक्ष्य को हासिल करने के लिए।

 

निम्नलिखित लाभ प्रति सरकार के रूप में एमएसई के लिए बढ़ाया जाएगा। दिशानिर्देश:

 

  1. एमएसई निविदा दस्तावेजों की लागत से मुक्त प्रदान किया जाएगा।
  2. एमएसई बयाना जमा के भुगतान से छूट दी जाएगी।
  3. निविदाओं में भाग लेने वाले एल 1 के प्राइस बैंड के भीतर मूल्य के हवाले से एमएसई + 15% एक स्थिति है जहाँ एल 1 कीमत एक एमएसई और ऐसे एमएसई के अलावा अन्य किया जाएगा किसी से है में एल 1 की कीमत के लिए उनकी कीमत नीचे लाने के द्वारा आवश्यकता के एक हिस्से की आपूर्ति करने की अनुमति दी जाएगी कुल प्रस्तुत मूल्य का कम से कम 20% की आपूर्ति करने की अनुमति दी। एक से अधिक ऐसे एमएसई के मामले में, आपूर्ति अनुपात में (प्रस्तुत मात्रा करने के लिए) साझा किया जाएगा।
  4. विशेष रूप से एमएसई से खरीद के लिए आरक्षित वस्तुओं एमएसई से खरीद की जाएगी।

अधिक जानकारी और स्पष्टीकरण के लिए संपर्क करें:

श्री हरि सिंह

नोडल अधिकारी एवं महाप्रबंधक

इंडिया लिमिटेड के राज्य व्यापार निगम

जवाहर व्यापार भवन,

टॉलस्टाय मार्ग,

नई दिल्ली– 110 001

फ़ोन : 011-23462110, 011-23701123

मोबाइल : 09810196525

ईमेल : hsingh@stclimited.co.in